पागलपन में कांस्टेबल ने निगले 40 चाकू

61

पागलपन की हद सुनकर हैरान हो जाएँगे आप, एक सख्स ने मानसिक तनाव के चलते 40 चाकू निगल लिए |

knifeपंजाब के गुरुदासपुर के एक कांस्टेबल के पेट से डाक्टरो ने कड़ी मशक्कत करके 40 चाकूओ को बाहर निकला |हम आपको बताते है कि कैसे गुरुदासपुर के इस कांस्टेबल को चाकू निगलने का पागलपन सवार हुआ |

गुरुदासपुर का रहने वाला 42 वर्षीय कांस्टेबल सतनाम सिंह तरनतारन जिले में बतौर हेड कांस्टेबल तैनात है और वो लगभग 1 साल से मानसिक तनाव से गुजर रहा था लगभग 4 महीने पहले उसने अपने तनाव से मुक्त पाने के लिए एक नया ही अंदाज खोज निकला और वो था कि वो बाज़ार जाता और 5 फोल्डिंग चाकू लाकर घर पर पानी से निगल लेता | उसे इसकी ऐसी लत लगी कि उसने 4 से 5 महीने में 40 चाकू निगल लिए | 8 अगस्त को जब अचानक सतनाम सिंह के पेट में दर्द हुआ तो घर वाले उसे अस्पताल ले गए जिसके बाद उसका अल्ट्रासाउंड हुआ, अल्ट्रासाउंड में डाक्टारो को पेट में कुछ दिखा तो उन्हें लगा शायद ये कैंसर है लेकिन जब कांस्टेबल का सिटीस्कैन कराया गया तो उसमे पता चला की उसके पेट में कुछ लोहे के पदार्थ है, कांस्टेबल से पूछने के बाद पता चला कि उसके पेट में ये लोहे के पदार्थ और कुछ नही चाकू है जो उसने खुद ही निगले थे |

40कांस्टेबल का ये ऑपरेशन कोई मामूली ऑपरेशन नही था क्यूंकि पेट में जो चाकू थे उनमे से कुछ चाकू खुल गए थे जिससे पेट के कई जगह कट लग गया था | सर्जन करने वाले डॉक्टर ने बताया पेट से चाकू को निकलना ऐंडोसर्जन से निकलना संभव नही था इसलिए 5 डोक्टोरो की टीम तैयार की गयी और कड़ी मशक्कत के बाद 5 घंटे में ऑपरेशन कर जंग लगे हुए चाकुओ को निकलने में कामयाबी हासिल की | डॉक्टरो ने बताया कि पेट में चाकू आड़े तिरछे होकर किडनी व लीवर के पास फसे हुए थे और जब चाकूओ को निकला गया तो इतने समय से पेट में रहने की वजह से चाकूओ में जंग भी लग चुके थे |

अगली स्लाइड पर जाने के लिए next बटन पर क्लिक करें