काली माँ आई, और इस लड़की से जीभ काटने को कह गयी.

112

पीके फिल्म देखे हो.? बेचारा भोला भाला एक एलियन कुछ सिखा जाता है, सिखाता ये है की कभी भगवान हमसे आ के किसी ख़ुशी के बदले कोई कुर्बानी नहीं माँगता. कभी ये नहीं कहता की ये करोगे तब ये करूँगा. तो हम क्यों कुछ दान करते हैं.? क्यों अपनी खोपड़ी के सारे बाल नोचवा देते हैं.? क्यों दूध, दही की नदिया बहाते हैं.? क्यों जानवरों की गर्दन एक पल में उड़ा देते हैं.? भगवान ने कभी कहा आकर ? नहीं ना ? फिर.? क्या जरुरत है ये सब करने की.? भगवान कभी किसी से कुछ नहीं मांगते, लेकिन अब यहाँ एक मामला आया है जहाँ एक लड़की से भगवान खुद कुछ मांगने आये थे.

pic 1

जी हाँ, सही सुना.. एक लड़की है, आरती दुबे. उम्र 19 साल, पढ़ी लिखी है. मध्य प्रदेश के रीवा शहर की रहने वाली है. टीआरस कॉलेज से ग्रेजूएसन कर रही है.  रात में ख्वाब आया, माता काली आई और सारी खुशियाँ देने की बात पर उसकी जीभ की कुर्बानी मांग गयी. सपने सब को आते हैं, भगवान भी आते हैं सपने में, आपको भी आते होंगे, मुझे तो अक्सर आते हैं.  इमानदारी से कहूँ तो मुझसे कभी कुछ माँगा नहीं, हाँ कुछ पूछ ताछ हुई है. भगवान को हमसे कुछ मांगने की जरुरत है क्या ? जो सब को देता है, उसके पास क्या घट सकता है. तो पूरी बात ये है की आरती को रात में सपना आया, और माँ काली ने उससे सपने में जीभ मांग ली. आरती भी सुबह सुबह पास के ही काली मंदिर पहुँच गयी, सज धज के. और सबके सामने जीभ काट दी, अन्धविश्वास और बेवकूफी ने उससे उसकी जीभ ले ली, जान भी ले सकती थी. घंटों बेहोश पड़ी रही, लोग देखते रहे, किसी ने हाथ तक नहीं लगाया. वहाँ के पंडित का कहना था, माँ काली खुद आएगी इसे बचाने. सब अन्धविश्वास की बंधन में बंधे थे. 5 घंटे बेहोश रहने के बाद, होश आया तो डॉक्टर आये, पुलिस आई. मरहम पट्टी हुई. तब से गावं के लोग उस लड़की पर काली माँ का आशीर्वाद मानते हैं.

अगली स्लाइड पर जाने के लिए next बटन पर क्लिक करें

Loading...